Hstory OneLiner Part 36

 

  • 1929 ई . में रावी नदी के तट पर लाहौर अधिवेशन आयोजित हुआ । लाहौर अधिवेशन ( 1929 ई . ) की अध्यक्षता जवाहर लाल नेहरू ने की । लाहौर अधिवेशन में जवाहर लाल नेहरू ने पहली बार कांग्रेस के मंच से पूर्ण स्वराज की मांग की ।

 

  • 31 दिसम्बर , 1929 की आधी रात को नेहरू ने भारतीय स्वतन्त्रता के प्रतीक तिरंगा झण्डा फहराया । 1929 ई ० में कांग्रेस द्वारा नियुक्त एक समिति की रिपोर्ट पर 26 जनवरी , .. 1930 ई ० को ‘ प्रथम स्वतन्त्रता दिवस ‘ के रूप में मनाया गया । 12 मार्च , 1930 ई ० को महात्मा गाँधी ने ऐतिहासिक नमक सत्याग्रह का प्रारम्भ करके सविनय अवज्ञा आन्दोलन की शुरूआत की । महात्मा गाँधी ने 6 अप्रैल , 1930 ई ० को गुजरात के समुद्रतट पर स्थित दाण्डी की 78 अनुयायियों के साथ यात्रा की तथा वहाँ नमक बनाकर कानून तोडा ।
  • गाँधीजी की 240 मील की यात्रा इतिहास में दाण्डी यात्रा ( DANDY MARCH ) के नाम से प्रसिद्ध है

 

  • जवाहरलाल नेहरू को नमक कानून तोड़ने के जुर्म में 14 अप्रैल 1930 को गिरफ्तार कर लिया गया ।

 

  • 5 मार्च , 1931 ई ० को गाँधी – इरविन समझौता हुआ । गांधी – इरविन समझौते के तहत , काँग्रेस ने सविनय अवज्ञा आन्दोलन की समाप्ति तथा गाँधी जी के द्वितीय गोलमेज सम्मेलन में भाग लेने की घोषणा की । गाँधी – इरविन समझौते को दिल्ली समझौता भी कहते हैं । प्रथम गोलमेज सम्मेलन 1930 में लंदन में आयोजित किये गये । गोलमेज सम्मेलन -1 की अध्यक्षता तात्कालीन ब्रिटिश प्रधानमन्त्री ‘ रैम्जे मैकडोनाल्ड ‘ ने की

MUST READ THIS

MUST READ THIS

  • प्रथम गोलमेज सम्मेलन में काँग्रेस के किसी भी प्रतिनिधि ने भाग नहीं लिया जबकि मुस्लिम लीग , हिन्दू महासभा , दलित वर्ग , व्यापारी वर्ग तथा रजवाड़ों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया । काँग्रेस के बहिष्कार के कारण पहला गोलमेज सम्मेलन असफल हो गया ।

 

  • 7 दिम्बर , 1931 ई ० को द्वितीय गोलमेज सम्मेलन प्रारम्भ हुआ , काँग्रेस की ओर से एकमात्र प्रतिनिधि गाँधीजी थे । दूसरा गोलमेज सम्मेलन स्वतन्त्रता प्राप्ति एवं साम्प्रदायिकता के सवाल पर असफल रहा । 17 नवम्बर , 1932 ई ० को तीसरा गोलमेज सम्मेलन का आयोजन हुआ , जिसमें काँग्रेस के किसी भी सदस्य ने भाग नहीं लिया तथा यह सम्मेलन बिना किसी निर्णय के समाप्त हो गया । तीनों गोलमेज सम्मेलनों में दलितों के प्रतिनिधि के रूप में डॉ ० बी ० आर ० अम्बेडकर ने भाग लिया । जनवरी , 1932 ई ० में द्वितीय सविनय अवज्ञा आन्दोलन शुरू किया गया । 4 जनवरी , 1932 ई ० को गाँधीजी को गिरफ्तार कर लिया गया काँग्रेस तथा उसके संगठनों पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया ।

 

  • ब्रिटिश प्रधानमन्त्री रैम्जे मैकडोनाल्ड 16 अगस्त 1932 को साम्प्रदायिक अधिनिर्णय प्रस्तुत किया । सांप्रदायिक अधिनिर्णय के अनुसार दलितों को हिन्दुओं से अलग मानते हुए उन्हें अलग प्रतिनिधित्व देने एवं अलग से निर्वाचक मण्डल की व्यवस्था की गई । गाँधीजी ने सांप्रदायिक निर्णय के विरोध में 20 सितम्बर , 1932 ई ० से आमरण अनशन आरम्भ कर दिया ।

 

  • गाँधीजी और बी ० आर ० अम्बेडकर के बीच 26 सितम्बर 1932 को पूना समझौता हुआ जिसके तहत हरिजनों के लिए अलग निर्वाचन मण्डल समाप्त कर दिया गया । दलितों के लिए प्रान्तीय विधानमण्डलों में रिजर्व 71 स्थानों को बढ़ाकर 148 कर दिया गया ।

 

  • गवर्मेंट ऑफ इण्डिया ऐक्ट -1935 के प्रावधानों के अनुसार , 1937 ई ० में प्रान्तीय चुनाव हुए । 1937 के चुनावों में 7 प्रान्तों में काँग्रेस ने अपने मंत्रिमण्डलों का गठन किया । 15 नवम्बर 1939 को प्रान्तीय मन्त्रिमण्डल ने इस्तीफा दे दिया । 15 नवम्बर 1939 को प्रांतों मेंकांग्रेस मंत्रिमंडल ने इस्तीफा दे दिया ।

 

  • उपर्युक्त घटना को 22 दिसंबर , 1939 को मुस्लिम लीग ने मुक्ति दिवस के रूप में मनाया ।

MUST READ ALSO

MUST READ ALSO

  • जवाहरलाल नेहरू स्वतन्त्र भारत के प्रथम प्रधानमन्त्री तथा लॉर्ड माउण्टबेटन प्रथम गवर्नर जेनरल बने ।
  • पाकिस्तान के गवर्नर जेनरल मुहम्मद अली जिना तथा प्रधानमन्त्री लियाकत अली को बनाया गया

 

MUST READ ALSO

MUST READ ALSO

 

राष्ट्रीय स्वतन्त्रता संग्राम से सम्बन्धित कुछ महत्वपूर्ण तथ्य

 

  • 17 अक्टूबर , 1940 ई ० को पवनार में गाँधीजी ने व्यक्तिगत सत्याग्रह की शुरूआत की थी । पंजाब के सुनाम नामक स्थान पर जन्मे उधम सिंह ने 13 मार्च , 1940 को लंदन में पंजाब के भूतपूर्व लेफ्टिनेंट गर्वनर जनरल डायर की की गोली मारकर हत्या कर दी ।

 

  • सुभाषचंद्र बोस 1939 ई ० में महात्मा गाँधी के उम्मीदवार पट्टाभि सीतारमैय्या को हराकर काँग्रेस के अध्यक्ष बने , परन्तु गाँधी से मतभेद के कारण उन्होंने यह पद छोड़ दिया । गढ़वाल राइफल्स के जवानों ने सविनय अवज्ञा आन्दोलन के दौरान पठान सत्याग्रहियों पर गोली चलाने से इन्कार कर दिया ।

 

  • हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन का गठन 1924 ई ० में शचीन्द्रनाथ सान्याल एवं भगत सिंह द्वारा पूर्व में स्थापित हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन को समाप्त करके किया गया था । काँग्रेस द्वारा जालियाँवाला बाग काण्ड की जाँच के लिए मदनमोहन मालवीय की अध्यक्षता में एक आयोग का गठन किया गया । जनरल डायर को जालियाँवाला बाग काण्ड के दौरान हंसराज नामक एक भारतीय ने मदद पहुँचाई ।

 

  • गाँधीजी द्वारा प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान भारतीयों को सेना में भर्ती होने का आह्वान किये जाने के कारण उन्हें सार्जेंट ( सेना में भर्ती करने वाला ) की संज्ञा दी गई । अनुशीलन समिति के हेमचन्द्र एवं पी ० एन ० वापट बम बनाने की कला क्रमशः रूस एवं पेरिस में सीखी । देश के लिए कई बार जेल यात्रा करने वाले पहले काँग्रेसी नेता बाल गंगाधर तिलक थे । ” काँग्रेस अपने पतन की ओर लड़खड़ाती हुई बढ़ रही है ” यह बात लॉर्ड डफरीन ने कही ।

 

  • ब्रिटिश सरकार का रूख काँग्रेस के प्रति 1887 के बाद कठोर हो गया । हरमिट ऑफ शिमला ए ० ओ ० ह्युम को कहा जाता है । भारत छोड़ो प्रस्ताव काँग्रेस द्वारा मौलाना अबुल कलाम आजाद की अध्यक्षता में पारित किया गया । राष्ट्रीय युवा दिवस स्वामी विवकानन्द से सम्बन्धित है । सरदार वल्लभ भाई पटेल को भारत का बिस्मार्क कहा गया है । देशबन्धु चित्तरंजन दास नेताजी सुभाषचन्द्र बोस के राजनीतिक गुरू थे ।

 

  • एम ० जी ० राणाडे गोपाल कृष्ण गोखले के राजनीतिक एवं आध्यात्मिक . . गुरू थे । बारडोली सत्याग्रह की सफलता के बाद वहाँ की महिलाओं द्वारा बल्लभ भाई पटेल को सरदार की उपाधि दी गई । सुभाषचन्द्र बोस ने गाँधी को सर्वप्रथम राष्ट्रपिता कहकर सम्बोधित किया । रवीन्द्रनाथ टैगोर सर्वप्रथम व्यक्ति थे जिन्होंने गाँधी को महात्मा कहा । मुहम्म्द अली जिन्ना ने काँग्रेस को सवर्ण हिन्दुओं की फासीवादी काँग्रेस कहा ।
  • भगत सिंह को शहीद – ए – आजम के नाम से भी जाना जाता

 

 

  • भगत सिंह ने राष्ट्रीय आन्दोलन के दौरान इन्कलाब जिन्दाबाद का नारा दिया । . . वन्दे मातरम् . हे राम खुदी राम बोस सबसे कम उम्र में फाँसी पर चढ़ने वाले क्रान्तिकारी थे । नरेन्द्र गोसाई नामक व्यक्ति ‘ अलीपुर षड्यन्त्र ‘ मामले में सरकारी गवाह बना ।

 

  • मजहरूल हक ने राष्ट्रवादी अहरार आन्दोलन चलाया । पंजाब में चमनदीव ने डण्डा फौज का गठन किया था । सुरेन्द्रनाथ बनर्जी को बिना ताज का बादशाह की उपाधि मिली । घनश्याम दास बिड़ला महात्मा गाँधी द्वारा स्थापित हरिजन सेवक संघ के अध्यक्ष थे । आजाद हिन्द फौज का झण्डा काँग्रेस के झण्डे के समान था जिसपर दहाड़ते हुए शेर का चित्र अंकित था ।

 

  • प्रथम भारतीय शासक कौन था जिसने अरब सागर में भारतीय नौसेना की सर्वोच्चता स्थापित की ? . राजराजा -1 सार संग्रह ।

 

 

  • मंसूर और माधव किसके दरबार के मुख्य चित्रकार थे ? . जहाँगीर

 

  • 1699 में ‘ खालसा ‘ की स्थापना किसने की थी ? गुरु गोविन्दसिंह ने

 

  • यूनानी लेखकों ने चन्द्रगुप्त मौर्य के लिए किस नाम का प्रयोग किया है ? सैन्ड्रोकोटस तथा एन्ड्रोकोटस का

 

  • अनन्त वर्मन द्वारा निर्मित ‘ लिंगराज ‘ मन्दिर कहाँ स्थित है ? भुवनेश्वर ( ओडिशा ) में

 

  • अशोक के काल में आयोजित तृतीय बौद्ध संगीति की अध्यक्षता किस बौद्ध विद्वान् ने की थी ? – मोगलिपुत्र तिस्य ने •

 

  • मुगलों की सेना व्यवस्था किस पद्धति से जानी जाती है ? . मनसबदारी पद्धति से .

 

  • इब्राहीम खाँ गर्दी किस पेशवा शासक का महत्वपूर्ण सैनिक अधिकारी था ? बालाजी बाजीराव का

 

  • नादिरशाह ने किसके शासनकाल में भारत पर आक्रमण किया था ? – मुहम्मद शाह के शासनकाल में

 

  • नासिरुद्दीन मुहम्मद के शासनकाल में किस विदेशी आक्रमणकारी ने भारत पर आक्रमण किया था ? • तैमूर ने .

 

  • ऋग्वेद में सर्वाधिक सुक्त किन दो देवों को सम्बोधित न 2 – इन्द्र और अग्नि को …

 

 

 

  • . सन् 1931 में कांग्रेस के कराची अधिवेशन में मूल अधिकारों के प्रस्ताव का प्रारूप किसने बनाया था ? पण्डित जवाहरलाल नेहरू ने

 

  • किस कांग्रेस अधिवेशन में कार्यकारी कमेटी ने सविनय अवज्ञा आन्दोलन ( Civil Disobedience ) प्रारम्भ करने का अधिकार दिया ? – लाहौर अधिवेशन ( 1929 में )

 

  • . 1857 के सिपाही विद्रोह के समय भारत का गवर्नर जनरल कौन था ? – लॉर्ड कैनिंग .

 

  • रौलेट एक्ट के तहत् किसी भी संदेहास्पद व्यक्ति को गिरफ्तार कर गुप्त मुकदमा चलाकर दण्डित करने का प्रावधान था . इस विधेयक को ‘ काला कानून ‘ भी कहा गया . जब रौलेट एक्ट पारित हुआ था , उस समय भारत का वायसराय कौन था ? – लॉर्ड चेम्सफोर्ड .

 

  • भारतीय स्वतन्त्रता संघर्ष के दौरान ‘ फ्री इण्डियन लीजन ‘ नामक सेना किसने बनाई थी ? – सुभाषचन्द्र बोस ने .

 

  • सन् 1912 में उर्दू साप्ताहिक पत्र ‘ अल हिलाल ‘ ( Al Hilal ) का प्रकाशन किसके द्वारा किया गया था ? अबुल कलाम आजाद .

 

  • भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना ए . ओ . ह्यूम ने की थी . इसका सर्वप्रथम अधिवेशन कहाँ आयोजित किया गया था ? – बम्बई ( मुम्बई ) में ‘

 

  • भारत कोकिला ‘ की उपाधि से सम्मानित किसने ‘ गोल्ड थेशहोल्ड ‘ नामक कविता संग्रह की रचना की ? सरोजिनी नायडू .

 

  • स्वदेशी आन्दोलन के प्रारम्भ का तात्कालिक कारण क्या था ? – लॉर्ड कर्जन द्वारा किया गया बंगाल विभाजन .

 

  • ब्रिटिश हाउस ऑफ कॉमन्स का चुनाव जिस प्रथम भारतीय ने लड़ा था , वह था . दादा भाई नौरोजी •

 

  • मराठी पाक्षिक ‘ बहिष्कृत भारत ‘ का 1927 ई . में किसने आरम्भ किया था ? . बी . आर . अम्बेडकर ने

 

 

  • . महाराष्ट्र में लोगों में राष्ट्रवाद की भावना जगाने के लिए बालगगाधर तिलक ने किस उत्सव की शुरूआत की थी ? – गणपति उत्सव ( 1893 ई . ) एवं शिवाजी उत्सव ( 1895 ई . )

 

  • प्रथम बार ‘ वन्देमातरम् ‘ को नारे के रूप में कब अपनाया गया ? 1905 में बंगाल के विभाजन के समय

 

  • . गाँधीजी को किसने सावधान किया था कि वह मुस्लिम धार्मिक नेताओं और उनके अनुयायियों के कट्टरपन को प्रोत्साहित न करें ? अजमल खाँ ने .

 

  • कानपुर षड्यंत्र मुकदमा किस आन्दोलन के नेताओं के विरुद्ध था ? – साम्यवादी आन्दोलन के

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *